Ad1

S109, अन्तर्मुख होना सबसे बड़ा पुरुषार्थ है ।। Bhakti Kise Kahate hain ।। दि.२७.३.१९५५ ई०

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 109 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/29/2021
S109, अन्तर्मुख होना सबसे बड़ा पुरुषार्थ है ।। Bhakti Kise Kahate hain ।। दि.२७.३.१९५५ ई० S109,  अन्तर्मुख होना सबसे बड़ा पुरुषार्थ है ।।  Bhakti Kise Kahate hain ।।  दि.२७.३.१९५५ ई० Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/29/2021 Rating: 5

S110, ईश्वर को जानने के लिए सत्संग है ।। Aatma Paramaatma ka Bhed ।। ६.४.१६५५ ई०

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 110 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/29/2021
S110, ईश्वर को जानने के लिए सत्संग है ।। Aatma Paramaatma ka Bhed ।। ६.४.१६५५ ई० S110,  ईश्वर को जानने के लिए सत्संग है ।।  Aatma Paramaatma ka Bhed ।। ६.४.१६५५ ई० Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/29/2021 Rating: 5

S111, संसार में खीरा की तरह रहो ।। Mrtyu Mein Kya Hota hai ।। २६.५.१६५५ ई० अपराह

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 111 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/29/2021
S111, संसार में खीरा की तरह रहो ।। Mrtyu Mein Kya Hota hai ।। २६.५.१६५५ ई० अपराह S111,  संसार में खीरा की तरह रहो ।।  Mrtyu Mein Kya Hota hai  ।। २६.५.१६५५ ई० अपराह Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/29/2021 Rating: 5

S113, नवधा भक्ति का उपदेश ।। Paramaatma kee Bhakti kaise Karen ।। ६.६.१९५५ ई०अपराह्न

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 113 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/28/2021
S113, नवधा भक्ति का उपदेश ।। Paramaatma kee Bhakti kaise Karen ।। ६.६.१९५५ ई०अपराह्न S113,  नवधा भक्ति का उपदेश ।। Paramaatma kee Bhakti kaise Karen ।। ६.६.१९५५ ई०अपराह्न Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/28/2021 Rating: 5

S114, भगवान श्रीराम का प्रजा को उपदेश ।। Shree Raam Geeta kya hai ।। दि. १३.६.१९५५ ई०

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 114 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/28/2021
S114, भगवान श्रीराम का प्रजा को उपदेश ।। Shree Raam Geeta kya hai ।। दि. १३.६.१९५५ ई० S114,  भगवान श्रीराम का प्रजा को उपदेश ।। Shree Raam Geeta kya hai ।। दि. १३.६.१९५५ ई० Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/28/2021 Rating: 5

S117, पहले मस्तिष्क ही पुस्तक थी ।। Moorti Pooja ke Vaigyaanik phaayade ।। २३.६.१९५५ ई०अपराह्न

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 117 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/24/2021
S117, पहले मस्तिष्क ही पुस्तक थी ।। Moorti Pooja ke Vaigyaanik phaayade ।। २३.६.१९५५ ई०अपराह्न S117, पहले मस्तिष्क ही पुस्तक थी ।। Moorti Pooja ke Vaigyaanik phaayade ।। २३.६.१९५५ ई०अपराह्न Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/24/2021 Rating: 5

S119, अन्तःकरण की शुद्धि ।। How to sanctify the mind ।। दि.१.७.१९५५ ई० प्रातः

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 119 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/15/2021
S119, अन्तःकरण की शुद्धि ।। How to sanctify the mind ।। दि.१.७.१९५५ ई० प्रातः S119,  अन्तःकरण की शुद्धि ।। How to sanctify the mind ।। दि.१.७.१९५५ ई० प्रातः Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/15/2021 Rating: 5

S121. संध्या वंदन न करने वाले ब्राह्मण की कथा ।। What is Sandhya Vandan ।। ३०.७.१९५५ ई०अपराह्न

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 121 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/13/2021
S121. संध्या वंदन न करने वाले ब्राह्मण की कथा ।। What is Sandhya Vandan ।। ३०.७.१९५५ ई०अपराह्न S121. संध्या वंदन न करने वाले ब्राह्मण की कथा ।। What is Sandhya Vandan ।। ३०.७.१९५५ ई०अपराह्न Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/13/2021 Rating: 5

S122, सावित्री, सत्यवान और तुलाधार वैश्य की तपस्या ।। Who is Maya ।। दि. ४.८.१९५५ ई०प्रात:

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 122 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/13/2021
S122, सावित्री, सत्यवान और तुलाधार वैश्य की तपस्या ।। Who is Maya ।। दि. ४.८.१९५५ ई०प्रात: S122,  सावित्री, सत्यवान और तुलाधार वैश्य की तपस्या ।। Who is Maya ।। दि.  ४.८.१९५५ ई०प्रात: Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/13/2021 Rating: 5

S126, भारतीय योग विद्या का चमत्कार ।। Swami Ramathirtha prasang ।। २५.११.१९५५ ई०प्रात:

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 126 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/12/2021
S126, भारतीय योग विद्या का चमत्कार ।। Swami Ramathirtha prasang ।। २५.११.१९५५ ई०प्रात: S126,  भारतीय योग विद्या का चमत्कार ।। Swami Ramathirtha prasang ।। २५.११.१९५५ ई०प्रात: Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/12/2021 Rating: 5

S127, प्राप्तव्य क्या है ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा ।। Sukhee Jeevan jeene ke upaay ।। २५.११.१९५५ई

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 127 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/12/2021
S127, प्राप्तव्य क्या है ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा ।। Sukhee Jeevan jeene ke upaay ।। २५.११.१९५५ई S127, प्राप्तव्य क्या है ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा ।। Sukhee Jeevan jeene ke upaay ।।  २५.११.१९५५ई Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/12/2021 Rating: 5

S128, साम्यावस्थाधारिणी मूल प्रकृति ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर ।। २६.११.१९५५ ई. पूर्णियाँ

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 128 प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-संतमत सत्संग के ...
- 5/11/2021
S128, साम्यावस्थाधारिणी मूल प्रकृति ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर ।। २६.११.१९५५ ई. पूर्णियाँ S128, साम्यावस्थाधारिणी मूल प्रकृति ।। महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर ।। २६.११.१९५५ ई. पूर्णियाँ Reviewed by सत्संग ध्यान on 5/11/2021 Rating: 5

संतमत और बेदमत एक है, कैसे? अवश्य जाने

     प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-सद्गुरु महर्षि मेंही परमहंस जी महाराज ने यह सि...

Ad

Blogger द्वारा संचालित.