Ad1

S07,(ख) Learn easy ways to attain salvation ।। बाबा साहब के उपदेशों का सार ।। महर्षि मेंहीं

महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर / 07 ख

प्रभु प्रेमियों ! संतमत सत्संग के महान प्रचारक सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज के भारती (हिंदी) प्रवचन संग्रह "महर्षि मेंहीं सत्संग सुधा सागर" के प्रवचन नंबर 07वां, मोक्ष प्राप्ति, ईश्वर-भक्ति से मोक्ष प्राप्ति से संबंधित हर तरह की जानकारी से भरपूर है।

इस प्रवचन (उपदेश, अमृतवाणी, वचनामृत, सत्संग सुधा, संतवाणी, गुरु वचन, उपदेशामृत, ज्ञान कथा, भागवत वाणी, संत वचन, प्रवचन पीयूष )  में बताया गया है कि- संत-महात्माओं का उपदेश है कि- ईश्वर भक्ति करके सभी दुखों से छूट जाने के लिए है। ईश्वर भक्ति दृष्टियोग और नादानुसंधान द्वारा किया जाता है। ईश्वर और माया क्या है? इसकी भी जानकारी इसमें दी गई है।    आदि  बातों की जानकारी  के साथ-साथ निम्नलिखित प्रश्नों के भी कुछ-न-कुछ समाधान पायेंगे। जैसे कि-  Measures of attainment of God, Sermon Synopsis, Preaching in Hindi, Means of Moksha, Definition of Moksha, Means of Moksha, Mantra of Moksha, Moksha Mantra, Mantra for Moksha, Paths of Moksha, Know the easy ways of attaining salvation, how many senses are there in our body, sense of senses, sense control, names of the five senses, names of senses of the body, names, hymns, word instruments, word manifestations आदि बातें। इन बातों को जानने-समझने के पहले, आइए !  संत सदगुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज का दर्शन करें। 

इस प्रवचन को लेख रूप में पढ़ने के लिए     यहां दबाएं ।


बाबा साहब के उपदेशों का सार पर चर्चा करते सदगुर महर्षि मेंहीं। मोक्ष क्या है ? विषय पर प्रवचन करते गुरुदेव
मोक्ष क्या है? विषय पर प्रवचन करते गुरुदेव

Learn easy ways to attain salvation

सदगुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज कहते हैं कि- सतगुरु बाबा देवी साहब के उपदेशों का सार ( "श्री सद्गुरु की सार शिक्षा" ) है कि प्रत्येक व्यक्ति मोक्ष प्राप्त करें । मोक्ष प्राप्ति के साधन करने के पहले ईश्वर स्वरूप को समझना आवश्यक है । ईश्वर इंद्रियों का विषय नहीं है और ईश्वर की प्राप्ति नाम भजन, शब्द साधन से होता है इसके लिए सत्संग अत्यंत आवश्यक है। पूरी जानकारी के लिए इस प्रवचन को पूरा पढें-

S07, Learn easy ways to attain salvation. बाबा साहब के उपदेशों का सार --सदगुर महर्षि मेंहीं। मोक्ष क्या है ? प्रवचन चित्र एक
मोक्ष क्या है? प्रवचन चित्र एक

S07, Learn easy ways to attain salvation. बाबा साहब के उपदेशों का सार --सदगुर महर्षि मेंहीं। मोक्ष क्या है? प्रवचन चित्र दो
मोक्ष क्या है? प्रवचन चित्र दो

S07, Learn easy ways to attain salvation. बाबा साहब के उपदेशों का सार --सदगुर महर्षि मेंहीं। मोक्ष क्या है ? प्रवचन चित्र समाप्त
मोक्ष क्या है? प्रवचन चित्र समाप्त


इस प्रवचन के बाद वाले प्रवचन नं.S08, को पढ़ने के लिए   यहां दवाएं।

प्रभु प्रेमियों ! गुरु महाराज के इस प्रवचन का पाठ करके आपलोगों ने जाना कि  मोक्ष के साधन,मोक्ष प्राप्ति का मंत्र,मोक्ष मंत्र,मोक्ष प्राप्ति के मंत्र,मोक्ष के मार्ग,जानिए मोक्ष प्राप्ति के आसान उपाय  इतनी जानकारी के बाद भी अगर आपके मन में किसी प्रकार का संका या कोई प्रश्न है, तो हमें कमेंट करें। इस प्रवचन के बारे में अपने इष्ट मित्रों को भी बता दें, जिससे वे भी लाभ उठा सकें। सत्संग ध्यान ब्लॉग का  सदस्य बने।  इससे आपको आने वाले प्रवचन या पोस्ट की सूचना नि:शुल्क मिलती रहेगी।




सद्गुरु महर्षि मेंही परमहंस जी महाराज के विविध विषयों पर विभिन्न स्थानों में दिए गए प्रवचनों का संग्रहनीय ग्रंथ महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर
महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर
अगर आप "महर्षि मेंहीं सत्संग-सुधा सागर"' पुस्तक से महान संत सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस  जी महाराज के  अन्य प्रवचनों के बारे में जानना चाहते हैं या इस पुस्तक के बारे में विशेष रूप से जानना चाहते हैं तो   यहां दबाएं।

सद्गुरु महर्षि मेंहीं परमहंस जी महाराज की पुस्तकें मुफ्त में पाने के लिए  शर्तों के बारे में जानने के लिए.  यहां दवाए
S07,(ख) Learn easy ways to attain salvation ।। बाबा साहब के उपदेशों का सार ।। महर्षि मेंहीं S07,(ख) Learn easy ways to attain salvation ।। बाबा साहब के उपदेशों का सार ।। महर्षि मेंहीं Reviewed by सत्संग ध्यान on 8/14/2018 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रभु प्रेमियों! कृपया वही टिप्पणी करें जो सत्संग ध्यान कर रहे हो और उसमें कुछ जानकारी चाहते हो अन्यथा जवाब नहीं दिया जाएगा।

संतमत और बेदमत एक है, कैसे? अवश्य जाने

     प्रभु प्रेमियों ! सत्संग ध्यान के इस प्रवचन सीरीज में आपका स्वागत है। आइए आज जानते हैं-सद्गुरु महर्षि मेंही परमहंस जी महाराज ने यह सि...

Ad

Blogger द्वारा संचालित.